शिवपुरी के भूमि घोटाले में एसडीएम तहसीलदार, सहित नौ के विरुद्ध एफ आई आर

शिवपुरी के भूमि घोटाले में एसडीएम तहसीलदार, सहित नौ के विरुद्ध हुई एफ आई आर दर्ज
-लोकायुक्त पुलिस की बड़ी कार्रवाई से राजस्व विभाग में  मचा हड़कंप
-जांच के घेरे में आए कई आला अधिकारी एवं कर्मचारी

शिवपुरी के चिटोरा विनेगा क्षेत्र में पिछले दिनों हुए भूमि घोटाले में राज्य प्रशासनिक सेवा के कई अधिकारी कार्रवाई की जद में आ गए हैं। लोकायुक्त पुलिस ने इस मामले में 9 लोगों के विरुद्ध आपराधिक षड्यंत्र और भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम की धारा 7 के तहत एफ आई आर दर्ज कर ली है, वहीं कई और अधिकारी भी जांच के दायरे में आ रहे हैं जिनमें एक अपर कलेक्टर भी बताए जा रहे हैं।
शिवपुरी में चिटोरा विनेगा क्षेत्र में पिछले समय बड़े स्तर पर जमीन का क्रय विक्रय हुआ था जिसमें विवादित जमीन कारोबारी सत्येंद्र सिंह सेंगर ने सोलर एनर्जी प्लांट को जमीन विक्रय की थी इसमें वन भूमि का भी क्रय विक्रय हुआ था यह मामला कई समाचार पत्रों ने तत्समय प्रमुखता के साथ प्रकाशित किया।
लोकायुक्त पुलिस ने इस प्रकरण में एक संज्ञान लेते हुए जांच उपरांत शिवपुरी के तत्कालीन एसडीएम प्रदीप सिंह तोमर, तत्कालीन तहसीलदार रोहित रघुवंशी, तहसीलदार जीएस बेरवा जो वर्तमान में करेरा में पदस्थ हैं, वरिष्ठ उप पंजीयक अशोक कुमार उप पंजीयक कार्यालय में पदस्थ महेंद्र सिंह कौरव, राजस्व निरीक्षक नितेंद्र श्रीवास्तव, नायब तहसीलदार श्रीमती शारदा पाठक, पटवारी अमृता शर्मा और जमीन विक्रेता सत्येंद्र सिंह सेंगर के विरुद्ध धारा 120 बी तथा भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम की धारा सात 7 के तहत एफ आई आर दर्ज कर ली है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार शिवपुरी में हुए इस भूमि घोटाले मे शिवपुरी में पदस्थ रहे एक एसडीएम जो वर्तमान में अपर कलेक्टर हैं वह भी जांच के घेरे में आ रहे हैं।

Share this:
Contact us
close slider
%d bloggers like this: