नरवर-पूर्व विधायक जसवंत जाटव ने कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन,नरवर क्षेत्र के तीनों डेमों का मुख्यालय नरवर स्थापित हो

खबर नरवर से जहाँ नरवर क्षेत्र में स्थित तीनो डेमो का मुख्यालय नरवर होना चाहिए,यें मांग करैरा के पूर्व विधायक जसवंत जाटव,नरवर नगर पंचायत के पूर्व अध्यक्ष मनोज माहेश्वरी एंव भाजपा के प्रदेश कार्यसमिति सदस्य संदीप माहेश्वरी, ने केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया एंव कलेक्टर को ज्ञापन सौपते हुए प्रदेश कीे सीएम शिवराज सिंह से की हैँ l
सौपे गए ज्ञापन मे बताया गया है कि बीते 03-04 अगस्त को हुई भारी बारिश के कारण मडीखेडा बाँध का जलस्तर बढ़ने से बिना किसी पूर्व सूचना के अचानक 10 गेट खोलकर अत्यधिक पानी छोड़ा गया। जिससे निचले इलाके के गाँवों में पानी भरने से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया तथा लोगों का भारी नुकसान हुआ। जिस कारण से क्षेत्र में रोष का माहौल व्याप्त होकर स्थितियाँ बेहद गंभीर बनी हुई थी।
आपके द्वारा करैरा विधानसभा के बाढ़ प्रभावित क्षेत्र में किये गये दौरे से और क्षेत्रवासियों को दिये गये। आश्वासन से आमजनों का रोष शांत होकर स्थिरता आई है।
यहाँ उल्लेखनीय तथ्य यह है कि महीखेडा बाँध का आबीसी(मुख्यालय) शिवपुरी (40 किमी), मोहनी बाँध का (मुख्यालय) नरवर एवं हरसी बाँध का आरबीसी (40 मुख्यालय) डबरा (50 किमी) स्थित होने से आपातकालीन स्थिति में नियंत्रण कर पाना दुस्कर होता हैं।
इस कारण तीनों बाँधों (मडीखेडा, मोहनी पिकअप वियर तथा हरसी बाँध) का एकल मुख्यालय नरवर में स्थापित किया जावे। तथा कमांड हेतु एक वरिष्ठ अधिकारी (SE) को पदस्थ किया जावे। ताकि भविष्य में क्षेत्रवासियों ऐसी अनपेक्षित आपदा का सामना ना करना पड़े।
वही उपरोक्त तीनों बाँधों की कई वर्षों से साफ-सफाई नहीं की गयी है, जिससे इनमें भारी मात्रा में गाद का जमाव हुआ है। अतः संबंधित विभाग द्वारा इन बाँचों से गाद निकाल कर साफ-सफाई कराई जाये।
ज्ञापन में मांग की हैं कि करैरा नरवर क्षेत्र में हुई भारी बारिश और बाढ़ के कारण करही-समोहा एवं नरवर मोहनी की रोड बुरी तरह कट चुकी हैं, जिससे जनसामान्य को आवागम में कठिनाई का सामना करना पड़ रहा है। अतः अविलम्ब इन रास्तों का मैटेनेंस कराया जाये।

Share this:
Contact us
close slider
%d bloggers like this: