पैसे से खरीद कर लाया अपने लिए नाबालिग दुल्हन,जिस्म से बसूल रहा था पैसाःपकडा गया


मुरैना। खबर मानव तस्करी से जुडी हुई है। एक नाबालिग को सिर्फ इसलिए खरीदा गया कि उससे हवस की भूख को शांत किया जाए। एक नाबालिग के पिता ने भी उसको पैसो की लालच कहे या गरीबी के कारण बेच दिया। खरीददार भी उसके जिस्म से पूरी कीमत बसूल रहा था किन्तु पकडा गया अब नाबालिग की काउंसलिंग जारी है।

बताया जा रहा हैं कि शादी के लिए बिहार से खरीदकर लाई गई नाबालिग ने वन स्टाप सेंटर पर हुई काउंसलिंग में आपबीती सुनाई तो काउंसलरों की आंखें भी नम हो गई। चंद हजार रुपयों में उसके माता-पिता ने उसे बेच दिया और जो युवक शादी करके लाया वह जबरन शारीरिक संबंध बनाने लगा, मना करने पर उसे पीटा जाता, तरह-तरह से यातनाएं दी जातीं।

जांच में पीड़िता के नाबालिग होने की पुष्टि हुई हैं, चाइल्ड लाइन व वन स्टाप सेंटर की रिपोर्ट पर आरोपित भोला जैन पर आज अंबाह थाने में मामला दर्ज होगा।

30 जनवरी को चाइल्ड लाइन की टीम ने अंबाह के भोला जैन के घर से एक नाबालिग को बरामद किया है। उक्त नाबालिग को बिहार के सेहरसा से भोला जैन शादी करने के लिए खरीदकर लाया था। जिला अस्पताल में हुई जांच में उक्त नाबालिग की उम्र 16-17 साल के बीच बताई गई है।

शनिवार से ही यह नाबालिग मुरैना वन स्टाप सेंटर में भर्ती है, जहां हुई काउंसलिंग में नाबालिग ने बताया कि वह बेहद गरीब परिवार से है। उसके माता-पिता को खाने के लाले हैं और छोटे-भाई बहनों की परवरिश नहीं हो पा रही थी। ऐसे में एक दलाल के माध्यम से भोला जैन उसके घर पहुंचा और माता-पिता ने चंद हजार रुपये में भोला जैन को उसे बेच दिया।

भोला जैन उससे शादी किए बिना ही पत्नी बनाकर रखने लगा। जबरन शारीरिक संबंध बनाने लगा। मना करने पर उसको पीटा जाता। काउंसलिंग में नाबालिग ने अंबाह के शांति नगर में रहने वाली इंदू प्रजापति का नाम बताया है, जो बिहार से लड़कियों को इसी तरह खरीदवाकर लाती है।

इंदू प्रजापति भी बिहार की रहने वाली बताई गई है। चाइल्ड लाइन के कार्यकर्ता नितिन शिवहरे ने बताया कि वन स्टाप सेंटर से रिपोर्ट आने के बाद संभवतः गुरुवार को इंदू प्रजापति एवं भोला जैन पर एफआइआर दर्ज करवाई जाएगी।

Share this:
Contact us
close slider
%d bloggers like this: